पीएम मोदी ने किया सूरत एयरपोर्ट टर्मिनल का उद्घाटन (Surat Airport Terminal In Gujarat)

By Amit
Surat Airport Terminal In Gujarat
Surat Airport Terminal In Gujarat(Image credit - Social Media)

आज रविवार 17 दिसंबर 23 को भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 353 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित सूरत एयरपोर्ट टर्मिनल का उद्घाटन किया। सूरत हवाई अड्डे के नए टर्मिनल भवन का उद्घाटन से सूरत शहर को एक और नई पहचान मिलेगी।

सूरत वर्तमान में दिल्ली, चेन्नई, बेंगलुरु, कोलकाता, हैदराबाद, गोवा, पुणे, जयपुर, उदयपुर, इंदौर, जैसे शहरों के लिए घरेलू विमान सेवा और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर विश्व के अन्य देशों से जुड़ा हुआ है।

इसके बाद पीएम मोदी ने सूरत को एक सौगात प्रदान की। अपने इस सूरत दौरे के दौरान इसके बाद वे अंतरराष्ट्रीय हीरे और आभूषण व्यवसाय के लिए प्रसिद्ध विश्व के सबसे बड़े और आधुनिक सेंटर – सूरत डायमंड बोर्स (Surat Diamond Bourse) को भी लोगों को समर्पित किया।

सरकार ने किया था 353 करोड़ का आबंटन

पिछले साल केंद्र सरकार ने सूरत एयरपोर्ट पर नए टर्मिनल भवन के निर्माण के लिए 353 करोड़ रुपए आबंटित किए थे। केंद्रीय मंत्रिमंडल ने शुक्रवार 15 दिसंबर 23 को सूरत हवाई अड्डे को अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा घोषित करने के प्रस्ताव को मंजूरी प्रदान की थी।

- Advertisement -

सूरत के नए टर्मिनल से दुबई की फ्लाइट आज से ही शुरू हो जायेगी। भारतीय विमानपत्तन प्राधिकरण के अध्यक्ष संजीव कुमार ने कहा कि नवनिर्मित टर्मिनल भवन के चालू होने से सूरत हवाई अड्डे की क्षमता तीन गुना तक बढ़ सकती है।

बताते चले की सूरत अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे पर नवनिर्मित टर्मिनल भवन को peak hours के दौरान 1200 घरेलू और 600 अंतर्राष्ट्रीय यात्रियों को संभालने में सक्षम होगा। सूरत हवाई अड्डे का नया टर्मिनल आधुनिक सुख सुविधाओं से सुसज्जित है।

सूरत का विश्व पटल और बढ़ेगा नाम

सूरत अपने कपड़ा और हीरा उद्योग के लिए भारत में ही नहीं बल्कि दुनियाँ भर में प्रसिद्ध है। गुजरात का सूरत विश्व के हीरे की आपूर्ति का 90 प्रतिशत यहीं तराशा और पॉलिश किया जाता है।

इस कारण से सूरत को “डायमंड सिटी” के नाम से भी जाना जाता है। नए टर्मिलन के बनने से इसका व्यपार बढ़ेगा और विश्व पटल पर यह और भी तेजी से उभरते हुए नया मुकाम हासिल करेगा।

सूरत हवाईअड्डे के नए टर्मिनल की विशेषता

सूरत के हवाईअड्डे के नए टर्मिनल भवन को GRIHA IV मॉडल के आहार पर तैयार किया गया है। इस टर्मिनल में ऊर्जा बचत के लिए कैनोपी, डबल इंसुलेटेड रूफिंग सिस्टम, कम गर्मी बढ़ाने वाली डबल ग्लेजिंग यूनिट, वाटर ट्रीटमेंट प्लांट, सीवेज ट्रीटमेंट प्लांट, सोलर पावर प्लांट और रेन वाटर हार्वेस्टिंग जैसी सुविधाओं से लेस है।

टर्मिनल भवन का डिजाइन इस तरह से तैयार किया गया है की यह स्थानीय संस्कृति और विरासत को दर्शाती मानो सूरत शहर का प्रवेश द्वार है। यहाँ आने वाले यात्री एयरपोर्ट से ही सूरत के स्थानीय संस्कृति और विरासत की झलक का प्रतिबिंब देख सकें।

सूरत के नए अत्याधुनिक टर्मिनल भवन के अग्रभाग को एक खास तरह से डिजाइन किया गया है। इसे देखकर आगंतुक को सूरत शहर के ‘रांदेर’ क्षेत्र के पुराने घरों की समृद्ध और पारंपरिक लकड़ी के काम का समृद्ध अनुभव मिल सके।

सूरत एयरपोर्ट टर्मिनल उद्घाटन के बाद रोड शो

सूरत में नए टर्मिनल उद्घाटन के बाद प्रधानमंत्री मोदी ने रोड शो किया। इसके साथ ही उन्होंने सूरत के जनता को संबोधित भी किया।

Share This Article