21 popular National symbols of India in Hindi

Table of Contents

भारत के प्रमुख राष्ट्रीय प्रतीक चिन्ह – 21 POPULAR NATIONAL SYMBOLS OF INDIA IN HINDI

किसी भी देश का national symbols उस देश की राष्ट्रीय पहचान होती है। National symbols of India in Hindi शीर्षक वाले इस लेख के अंतर्गत उन महत्वपूर्ण प्रतीकों का वर्णन किया गया है।जो हमारे देश भारत की राष्ट्रीय पहचान है।

1. भारत का राष्ट्रीय चिन्ह् (National emblem of India)

National symbols of India in Hindi की सूची में भारत का राष्ट्र चिन्ह ( National emblem) को सर्वोपरि माना गया है। भारत का राष्ट्र चिन्ह सारनाथ के अशोक स्तम्भ लिया गया है। वराणसी के पास सारनाथ में मौर्यवंशी सम्राट अशोक के द्वारा इस सिंह स्तम्भ का निर्माण कराया गया था।

इसी चक्र को तिरंगे में केंद्र में रखा गया है। आशोक सिंह स्तम्भ के फलक पर देवनागरी लिपि में “सत्यमेव जयते” लिखा हुआ है। जो ‘मुंडको उपनिषद’ से लिया गया है।

इसका मतलव होता है की सत्य की हमेशा जीत होती है। यह सिंह-स्तम्भ सारनाथ के संग्रहालय में सुरक्षित है। 26 जनवरी 1950 को जिस दिन भारत गणतंत्र बना उसी दिन इसे इस राष्ट्र चिन्ह के रूप में स्वीकार किया गया।

2. भारत का राष्ट्रगान – National anthem of India

जन-गण-मन अधिनायक जय हे भारत भाग्‍य विधाता। पंजाब-सिंधु-गुजरात-मराठा द्राविड़-उत्‍कल-बंग विंध्य हिमाचल यमुना गंगा उच्‍छल जलधि तरंग तव शुभ नामे जागे, तव शुभ आशिष मांगे गाहे तव जय-गाथा। जन-गण-मंगलदायक जय हे भारत भाग्‍य विधाता। जय हे, जय हे, जय हे, जय जय जय जय हे।

रचीयता – गुरुदेव रबीन्द्रनाथ टैगोर

किसी भी देश का राष्ट्रगान उस देश की राष्ट्रीय पहचान मानी जाती है। दुनियाँ के हर देश का राष्ट्रगण होता है। जीसे किसी खास अवसर पर गायन किया जाता है। National symbols of India की सूची में भारत के राष्ट्रगान का महत्वपूर्ण स्थान है।

भारत का राष्ट्रगान की शुरुआत ‘जन-गन-मन’ से होती है। भारत के राष्ट्रगण के रचियाता महान स्वतंरता सेनानी गुरुदेव रवीन्द्रनाथ टैगोर के द्वार की गई है। इस गान को सर्वप्रथम 1911 ईस्वी में गया था। भारत के संबिधान सभा के द्वारा इसे 24 जनवरी 1950 ईस्वी में राष्ट्रगान के रूप में अपनाया गया।

राष्ट्रगान के गायन के लिए 52 सेकंड का समय निर्धारित है। कुछ अवसरों पर राष्ट्रगान के संक्षिप्त पाठ भी गाया जाता है। इसके लिए मात्र 20 सेकंड का समय निर्धारित है।

3. भारत का राष्ट्रीय ध्वज – National flag of India

किसी भी देश का झंडा उस देश की राष्ट्रीय पहचान के रूप में देखी जाती है। हमारा राष्ट्रीय घ्वज तिरंगा National symbols of India की सूची में प्रमुख है। यह हमारे देश भारत का गौरव का प्रतीक माना जाता है।

हमारा राष्ट्रीय झंडा तिरंगा भारत के आन-बान तथा शान का प्रतीक माना जाता है। इस तिरंगे की आन-बान और शान के खातिर भारत के कितने देशभक्त ने अपने प्राण न्योछावर कर दिए। लेकिन मरते दम तक भी अपने देश के झंडे को सदा ऊँचा रखा और कभी झुकने नहीं दिया।

वैसे तो भारतीय झंडे का इतिहास बहुत पुराना है। समय के साथ इसमें फेर बदल होते रहे। लेकिन 22 जुलाई 1947 को तिरंगा के वर्तमान स्वरूप को आधिकारिक रूप से राष्ट्र ध्वज के रूप संविधान सभा के द्वारा अपनाया गया।

4. भारत की राष्ट्रीय मुद्रा – National symbols of India in Hindi

National symbols of India in Hindi
भारतीय मुद्रा का प्रतीक चिन्ह

भारत की राष्ट्रीय मुद्रा को रुपया कहा जाता है। भारत की मुद्रा का आईएसओ कोड INR है। इस मुद्रा को रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया नियंत्रित करती है। भारतीय मुद्रा के लिए प्रतीक चिन्ह “र” द्वारा सूचित किया जाता है। इस चिन्ह को 15 जुलाई 2010 को भारत सरकार ने जारी किया गया था।

रुपए का यह नया प्रतीक चिन्ह देवनागरी लिपि के ‘र’ और रोमन लिपि के अक्षर ‘R’ को मिला कर बना है।  जिसमें एक क्षैतिज रेखा भी बनी हुई है। यह रेखा हमारे भारत के राष्ट्रध्वज तथा बराबर के चिन्ह को प्रतिबिंबित करती है।

इस चिन्ह का डिजाइन आई आई टी मुंबई के पोस्ट ग्रेजुएट श्री डी. उदय कुमार के द्वारा तैयार किया गया है। भारतीय मुद्रा के इस प्रतीक चिन्ह को वित्त-मंत्रालय द्वारा आयोजित एक खुली प्रतियोगिता के दौरान हजारों डिजायनों में से सेलेक्ट किया गया था।

5. भारत का राष्ट्रगीत – National song of India

वन्दे-मातरम  – Vande Mataram Lyrics

वन्दे मातरम्, सुजलां सुफलाम् , मलयजशीतलाम्श स्यशामलाम् मातरम्। वन्दे मातरम्शु भ्रज्योत्स्नापुलकितयामिनीम् फुल्लकुसुमितद्रुमदल शोभिनीम् सुहासिनीं सुमधुर भाषिणीम् सुखदां वरदां मातरम्।वन्दे मातरम्। 

रचीयता – बंकिमचंद्र चटर्जी

भारत का राष्ट्रगीत वन्दे मातरम् भी national symbols of India सूची में एक है। पहले राष्ट्रगान के रूप में इसी को अपनाने पर बिचार चल रहा था। लेकिन वन्दे-मातरम के शुरुआत के 2 छंद को छोड़कर बाकी छंद माँ दुर्गा के वंदना में लिखी गयी है।

इसी कारण रबीन्द्रनाथ टैगोर द्वारा लिखित जन-गण-मन को 1950 में राष्ट्रगान का दर्जा मिला। इसके साथ ही वन्दे-मातरम के शुरुआत के 2 छंद को भारत के राष्ट्रगीत के रूप में स्वीकार कर लिया गया। भारत के राष्ट्रगीत को बंकिमचन्द्र चैटर्जी ने बंगाली और संस्कृत में लिखा था।

बंकिम चंद्र ने कहा था की जो लोग देश की धरती को माँ मानकर उसकी आराधना नहीं कर सकते, वे मातृहीन की तरह हैं तथा उनका कोई देश नहीं होता।  बंदे-मातरम का प्रकाशन 1875 ईस्वी में बंग दर्शन में बंकिम चंद्र के द्वारा किया गया था। बाद में इसको ‘आनन्दमठ्’ नामक उपन्यास में प्रकाशित किया गया।

27 दिसंबर 1905 को वाराणसी के भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के अधिवेशन में सरला देवी ने वन्दे -मातरम का गान किया था। गुरुदेव रवींद्र नाथ ने 1906 में इसे कलकत्ता के कांग्रेस अधिवेशन के दौरना गया था। नेताजी सुभाष चंद्र बोस ने आजाद हिन्द फौज के लिए वन्दे-मातरम गान को ही चुना था।

6. भारत का राष्‍ट्रीय पशु – National animal of India

भारत के राष्ट्रीय पशु बाघ (बंगाल टाइगर) को माना जाता है। बाघ का वैज्ञानिक नाम Panthera tigris है। यह एक स्तनपायी पशु है जिसका वजन 300 किलोग्राम तक होता है। इसके शरीर पर चमकदार काली  धारीदार निशान होता है।

बाघ में गजब की फुर्ती और अपार ताकत पायी जाती है। भारत में बाघों की घटती संख्या के कारण 1973 में टाइगर प्रोजेक्ट की शुरुआत की गयी थी। बाघ भारत के विस्तृत भु-भाग में पाया जाता है।  इस कारण ही सन 1973 में ही बंगाल टाइगर को भारत का राष्ट्रीय पशु के रूप में घोषित किया गया।

हमारे देश में बाघों को शिकार करना अपराध है। बाघों के संरक्षण के प्रति जागरूकता फैलाने के उद्देश्य से प्रति वर्ष 29 जुलाई को ‘विश्व बाघ दिवस’ के रूप में मनाया जाता है।

7. भारत का राष्ट्रीय पक्षी – National symbols of India in Hindi

National symbols of India in Hindi
Image by Allan Lau from Pixabay

भारत का राष्ट्रीय पक्षी मोर national symbols of India की सूची में महत्वपूर्ण स्थान रखता है। भारतीय मोर जिसका वैज्ञानिक नाम पावों क्रिस्‍तातुस हैं। मोर आकार में हंस के समान होता है। इसकी गर्दन पतली और नीली होती है, तथा आँख के नीचे सफेद धब्बा होता है।

इस प्रजाति का नर मोर, मादा से अधिक सुंदर दिखता है। मादा की कलर भूरी होती है और नर के मुकवाले चोटी होती है। नर मोर का पंख बहुत ही मनमोहक होता है। मोर अपनी पुछ को हवा में उठाकर जब नाच करता है तब अद्भुत मनमोहक दृश्य दिखाई देता है।

मोर भारत में लगभग हर जगह दिखाई पड़ता है। मोर देखने में अत्यंत ही सुंदर होता है, हर आदमी  मोर से परिचित है। मोर के अद्भुत सौंदर्य ही अन्य पक्षी से अलग करता है।

मोर को सभी पक्षी में राजा कहा गया है। शायद यही कारण है की भारत सरकार न 1963 में मोर को राष्टीय पक्षी घोषित किया। मोर भारत के साथ श्रीलंका, और म्यांमार का भी राष्ट्रीय पक्षी है।

8. राष्ट्रीय फूल – National symbols of India in Hindi

National symbols of India in Hindi
Image by Devanath from Pixabay

भारत का राष्ट्रीय फूल कमल हमारे देश के प्रतीक चिन्हों में से एक है। इसका वैज्ञानिक नाम नील्यूम्बो न्यूसीफेरा है। कमल का फूल  प्राचीन काल से भारतीय संस्कृति का मांगलिक प्रतीक रहा है। कमल कीचड़ में रहकर भी कीचड़ उसमें नहीं लगता। इसीलिए कमल को अति पावन माना जाता है।

संस्कृत में इसके कई नाम हैं जैसे पद्म, पंकज, सरोज, जलज, नीरज इत्यादि। कहते हैं की 1857 के स्वतंत्रता संग्राम में प्रतीक चिन्हों में कमल फूल भी शामिल था। भारतीय जनता पार्टी का भी चुनाव चिन्ह कमल है। हिन्दू और बौद्ध समुदाय में कमल के फूल का विशेष स्थान है।

वेदों में भी Kamal अर्थात पदम का गुणगान मिलता है। Kamal ka phool आध्यात्मिकता, ज्ञान और पवित्रता का प्रतीक के रूप में भी जाना जाता है। कमल का फूल उथले शांत जल या कीचड़ में पनपता है। यह मुख्य रूप में सफेद, गुलावी और नीले रंग का होता है।

कमल का फूल सुबह के बक्त खिलता है। सूर्यास्त के साथ ही इनकी पंखुड़ी बंद हो जाती है। कमल के फूल की पंखुड़ी बहुत ही नाजुक होती है।

9. भारत का राष्टीय पेड़ – National tree of India

भारत का राष्ट्रीय पेड़ बरगद को माना जाता है। भारत के बरगद का पेड़ (फाइकस बैंगा‍लेंसिस) अपनी शाखाओं से निकलने वाली नए जड़ों के साथ फैलती रहती है। इस कारण इस पेड़ की आयु बहुत लंबी होती है।  लंबी आयु के कारण ही इस पेड़ को अनश्‍वर माना जाता है।

इसकी पत्तियां चौड़ी और लगभग अंडाकार रूप में होती है। भारत के राष्ट्रीय पेड़ बरगद सांस्कृतिक दृष्टि से भी अति महत्वपूर्ण है। बरगद के पेड़ को कल्पतरु भी कहा जाता है जिसको सर्वमनोकामना पूरा करने वाला वृक्ष माना जाता है। 

यह पेड़ छाया के साथ-साथ औषधि गुणों से भरपुर होता है। हिन्दू समुदाय में इस वृक्ष की पूजा की जाती है। बरगद का पेड़ जितना पुराना होते जाता है इसका आकार में उतना ही विशाल हो जाता है।

यह कई जीव जन्तु और पक्षियों के लिए एक आश्रय का काम करता है। शायद इसी कारण भारत के राष्ट्रीय पेड़ बरगद national symbols of India की सूचि में सम्मिलित किया गया है।

10. भारत का राष्ट्रीय खेल – National symbols of India in Hindi

हमारे देश का राष्ट्रीय खेल हॉकी, भारत के राष्ट्रीय पहचान ( National symbols of India) के रूप में माना गया है। साल 1928 से 1956 का युग भारतीय हॉकी का स्वर्णिम काल माना जाता है। भारत ने ओलंपिक में आठ स्वर्ण  पदक जीत चुका है।

भारत का महान हॉकी खिलाड़ी मेजर ध्यानचन्द्र का नाम आपने जरूर सूना होगा। उन्हें हॉकी के जादूगर कहा जाता है। भारत ने ओलंपिक में हॉकी के लिए अंतिम गोल्ड मेडल 1980 में मे प्राप्त किया था।

हॉकी की लोकप्रियता और इस क्षेत्र में भारत का दबदबा होने के करना ही हॉकी को राष्ट्रीय खेल का दर्जा प्राप्त हुआ। इस प्रकार हॉकी national symbols of India के लिस्ट में सम्मिलित हुआ। भारत ने कब और किस वर्ष ओलंपिक में स्वर्ण पदक जीता उसका विवरण नीचे दिया गया है।

मेडल के प्रकार स्थान वर्ष

  • पहला गोल्ड मेडल – एम्स्टर्डम – 1928
  • दूसरा गोल्ड मेडल – लॉस एंजिलस – 1932
  • तीसरा गोल्ड मेडल – बर्लिन – 1936
  • चौथा गोल्ड मेडल – हेलसिंकी – 1948
  • पाँचवा गोल्ड मेडल – मेलबॉर्न – 1952
  • छठा गोल्ड मेडल – मेलबॉर्न – 1956
  • सातवाँ गोल्ड मेडल – टोक्यो – 1964
  • आठवाँ गोल्ड मेडल – मॉस्को – 1980

11. राष्‍ट्रीय पंचांग – National calendar of India

भारत का राष्‍ट्रीय कैलेंडर शक संवत के आघार पर होता है। भारत के राष्ट्रीय  कैलेंडर का पहला माह चैत्र है। भारत का राष्ट्रीय पंचांग ग्रिगेरियन कैलेंडर पर आधारित होने के कारण 1 चैत 22 मार्च को और लीप वर्ष में 21 मार्च को होता है। इसे 22 मार्च, 1957 से निम्नलिखित सरकारी प्रयोजनों के लिए अपनाया गया।

भारत का राजपत्र, आकाशवाणी द्वारा समाचार प्रसारण, भारत सरकार द्वारा जारी कैलेंडर और लोक सदस्‍यों को संबोधित सरकारी सूचनाएं

12. भारत का राष्ट्रीय फल – National fruit of India

National symbols of India in Hindi
NATIONAL SYMBOLS OF INDIA IN HINDI
Image by Joseph Mucira from Pixabay

भारत का राष्ट्रीय फल आम national symbols of India में सूचीवध है। आम भारत के लगभग हर प्रदेश में पाया जाता है। भारत में 100 से भी ज्यादा आम की किस्में पायी जाती है। मैनजीफेरा इंडिका आम का वैज्ञानिक नाम है। यह एक गूदेदार फल है जो अपने अद्भुत स्वाद के कारण बहुत लोकप्रिय है।

इसीलिए आम को फलों का राजा कहा जाता है। आम उष्‍ण कटिबंधी क्षेत्र में बहुतायत रूप में पाया जाता है। भारत में यह अति प्राचीन काल से उगाया जाता है।

13.  भारत का सर्वोच्च नागरिक सम्मान – National symbols of India in Hindi

National symbols of India in Hindi
भारत रत्न मेडल
इमेज बाइ सोशल मीडिया

भारत रत्न भारत का सर्वोच्च नागरिक सम्मान है। यह भी national symbols of India के सूची में से एक है। यह सम्मान किसी खास क्षेत्र में असाधारण कार्य के लिए प्रदान किया जाता है। इनमें विज्ञान, कला, साहित्य, खेल और सार्वजनिक सेवा सम्मिलित है।

भारत रत्न की शुरुआत 2 जनवरी, 1954 को भारत के राष्ट्रपति द्वारा की गई थी। इस सम्मान में एक प्रशंसित पत्र के साथ मेडल प्रदान किया जाता है। भारत रत्न सबसे पहले 1954 में तीन हस्तियों को प्रदान किया गया।

खेल को बाद में भारत रत्न में शामिल किया गया। खेल के क्षेत्र में भारत रत्न पाने वाले  पहले खिलाड़ी महान क्रिकेटर सचिन तेनदुलकर हैं।  

14. भारत का राष्ट्रीय जलचर – डॉलफिन

National symbols of India in Hindi
डॉल्फिन – a national symbols of India in Hindi
Image by Pexels from Pixabay

भारत के गंगा में पायी जाने वाली डॉलफिन को राष्ट्रीय जलचर के रुप में स्वीकार किया गया है। डॉलफिन साफ सुथरे पानी में ही पाया जाता है। एक तरह से ये गंगा की पावनता को भी दर्शाती है। दुनियों के पुराने जीव में से एक, डाल्फिन स्तनपायी जीव होती है।

15. भारत की राष्ट्रीय नदी – National symbols of India in Hindi

National symbols of India in Hindi
गंगा नदी
ommons.wikimedia.org

गंगा हिमालय के गंगोत्री से निकलकर हरिद्वार होते हुए बंगाल की खाड़ी में समुन्द्र में मिल जाती है। गंगा भारत की सबसे लंबी नदी है जिसकी लंबाई 2500 कि.मी. से ऊपर है। गंगा नदी भारत में सवसे पवित्र नदी मानी जाती है। हिन्दू धर्मग्रंथ के अनुसार गंगा पहले स्वर्ग में वहती थी।

राजा भागीरथी के कठोर तपस्या के कारण गंगा धरती पर अवतरित हुई। गंगा के किनारे कई बड़े बड़े शहर वसे है। गंगा का मैदानी भाग बहुत ही उपजाऊ है। जो करोड़ों लोगों को आजीविका का साधन प्रदान करता है। इनकी महत्ता के कारण ही इसे national symbols of India की सूची में से एक है।

16. भारत के राष्ट्रपिता – महात्मा गांधी

National symbols of India in Hindi

महात्मा गांधी को भारत का राष्ट्रपिता कहा जाता है। उन्होंने अहिंसा का मार्ग अपनाते हुए भारत के आजादी के लिए आंदोलन किया और कई बार जेल गये। नमक कानून को तोड़ने के लिए उन्होंने दांडी मार्च किया।

अंततः देश 15 अगस्त 1947 को आजाद हुआ। 30 जनवरी 1948 को गांधी जी की हत्या कर दी गयी। उस समय तत्कालीन प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरु ने देश को संबोधित करते हुए रेडियो पर कहा कि ‘ राष्ट्रपिता अब नहीं रहे। उसी समय से महात्मा गाँधी भारत के राष्ट्रपिता कहे जाते हैं। ( National symbols of India in Hindi)

17. भारत का राष्ट्रीय त्योहार

स्वतंत्रता दिवस, गाँधी जयंती और गणतंत्र दिवस को भारत के राष्ट्रीय त्योहार के रूप में मनाया जाता है। इसे भी national symbols of India के रूप में माना जाता है। हर साल 15 अगस्त को स्वतंत्रता दिवस, 26 जनवरी को गणतंत्र दिवस और 2 अक्टूबर को गाँधी जयंती देशभर में बहुत ही धूम-धाम से मनाया जाता है।

18. भारत के राजभाषा – National symbols of India in Hindi

हिन्दी भाषा को भारतीय संविधान की अनुच्छेद 343(1) के तहद भारतीय गणराज्य के राजभाषा का दर्जा प्राप्त है। इसकी लिपि देवनागरी लिपि कहलाती है। इसके अतिरिक्त भारतीय संविधान में 22 अन्य भारतीय भाषाओं को भी सम्मिलित किया गया है।

19. राष्ट्रीय शपथ – National Pledge

भारत का राष्ट्रीय शपथ को प्यिदीमर्री वेंकट सुब्बाराव ने 1962 में तेलगू भाषा में लिखा था।  सभी स्कूलों में इसे नियमित रूप से 26 जनवरी 1965 से गाये जाने का प्रावधान बनाया गया। National Pledge इस प्रकार है।

“भारत मेरा देश है। हम सब भारतवासी भाई-बहन हैं। हमें अपना देश प्राणों से भी प्यारा है। इसकी समृद्धि और विविध संस्कृति पर हमें गर्व है। हम इसके सुयोग्य अधिकारी बनने का प्रयत्न सदा करते रहेंगे। हम अपने माता-पिता और शिक्षकों व गुरुजनों का सदा आदर करेंगे और सबके साथ शिष्टता का व्यवहार करेंगे। हम अपने देश और देशवासियों के प्रति वफादार रहने की प्रतिज्ञा करते हैं। उनके कल्याण और समृद्धि मे ही हमारा सुख निहित है। “

National Pledge

20. भारत का राष्ट्रीय मिठाई

जलेबी को भारत का राष्ट्रीय मिठाई माना जाता है। जलेबी भारत के हर प्रदेश में पाया जाता है। यह भारत मे सवसे ज्यादा लोकप्रिय मिठाई है।

21. भारत का राष्ट्रीय विरासत पशु – National Heritage Animal of India

National symbols of India in Hindi
Image by Michael Siebert from Pixabay

भारत का राष्ट्रीय विरासत पशु हाथी को माना गया है। इसे भारत सरकार द्वारा 2010 में विरासत पशु के रूप में अपनाया गया।

उपसंहार- Conclusion

National symbols of India in Hindi का यह लेख आपको कैसा लगा। अपने सुझाव से जरूर अवगत करायें।

Leave a Comment