World Tourism Day 2023: आज है विश्व पर्यटन दिवस, जाने कैसे हुई थी इस दिन की शुरुआत, क्या है इस साल की थीम

World Tourism Day 2023: आज है विश्व पर्यटन दिवस, जाने कैसे हुई थी इस दिन की शुरुआत, क्या है इस साल की थीम

विश्व पर्यटन दिवस 2023 (world tourism day ) प्रत्येक वर्ष 27 सितंबर को विश्व पर्यटन दिवस के रूप में पूरे विश्व में मनाया जाता है। संयुक्त राष्ट्र विश्व पर्यटन संगठन (यूएनडब्ल्यूटीओ) द्वारा 1980 में इसकी शुरुआत की गई थी।

चूंकि 27 सितंबर 1970 में (UNWTO)  कानूनों को मंजूरी मिली थी इसी कारण से  27 सितंबर को इसके आयोजन की तारीख चुनी गई। 

विश्व पर्यटन दिवस का उद्देश्य पर्यटन के बारे में जागरूकता बढ़ाना, उद्योग के माध्यम से रोजगार सृजन को प्रोत्साहित करना और लोकप्रिय पर्यटन स्थानों के बारे में अधिक लोगों को जागरूक करना है। किसी भी देश की अर्थव्यवस्था में पर्यटन उद्योग का बहुत अधिक निर्भरता होती है।

विश्व पर्यटन दिवस 2023 (world tourism day 2023)

2023 विश्व पर्यटन दिवस जानें कि विश्व पर्यटन दिवस केवल 27 सितंबर को ही क्यों मनाया जाता है, जैसा कि हम सब जानते हैं। प्रत्येक वर्ष 27 सितंबर को विश्व पर्यटन दिवस के रूप में मनाया जाता है।

लोगों को पर्यटन के प्रति प्रोत्साहित करने और पर्यटन उद्योग द्वारा रोजगार के अवसर बढ़ाने पर जोर देने के लिए पर्यटन दिवस मनाया जाता है।

 पर्यटन दिवस विश्व पर्यटन दिवस का लक्ष्य 

27 सितंबर को दुनिया भर में पर्यटन के प्रति जागरूक करने और उसे बढ़ावा देने के लिए समर्पित है। विश्व पर्यटन संगठन (यूएनडब्ल्यूटीओ) ने पर्यटन को आगे बढ़ाने के लिए इसकी स्थापना की और इसके महत्व को पहचानने के लिए विश्व पर्यटन दिवस मनाया जाता है।

विश्व पर्यटन दिवस का लक्ष्य लोगों को यात्रा के आनंद की सराहना करने में मदद करना है। इससे आर्थिक विकास और उत्पादकता के साथ-साथ पर्यटन उददयोग को भी बढ़ावा मिलता है।

इसका लक्ष्य पर्यटन के वैश्विक समाज के सामाजिक-राजनीतिक, आर्थिक और सांस्कृतिक मानदंडों पर पड़ने वाले प्रभाव के बारे में जागरूकता फैलाना है। क्योंकि पर्यटन किसी देश की अर्थव्यवस्था और उसकी नाम को विश्व पटल पर आगे बढ़ाने में महत्वपूर्ण योगदान देता है। 

विश्व पर्यटन दिवस का इतिहास 

पर्यटन के लिए वैश्विक मान्यता के दिन के रूप में वर्ष 1980 में पहला विश्व पर्यटन दिवस मनाया गया था। दिवस राष्ट समृद्धि को बढ़ावा देने में महत्वपूर्ण योगदान व अवसर प्रदान करता है।

वर्ष 1980 में यूएनडब्ल्यूटीओ ने विश्व पर्यटन दिवस की स्थापना की और चूंकि 27 सितंबर की तिथि यूएनडब्ल्यूटीओ नियमों में अंकित है, इसलिए दिवस को प्रत्येक वर्ष 27 सितंबर को मनाया जाता है।

1970 में इसी दिन संयुक्त राष्ट्र विश्व व्यापार संगठन (यूएनडब्ल्यूटीओ) को मान्यता दी गई थी। तभी से इसके वर्षगांठ के दिन विश्व पर्यटन दिवस मनाने का निर्णय लिया गया था। 

इन्हें भी पढ़ें : विश्व साइकिल दिवस का इतिहास और जानकारी

विश्व पर्यटन दिवस 2023 की थीम

यूएनडब्ल्यूटीओ प्रत्येक वर्ष विश्व पर्यटन दिवस के लिए एक थीम का चयन करता है। 2023 में इसका थीम “पर्यटन और हरित निवेश” (Tourism and Green Investments) है। इस वर्ष इसका मेजबानई रियाद, सऊदी अरब है। यूएनडब्ल्यूटीओ के अनुसार, इसे हर साल एक नई थीम के साथ मनाया जाता है। 

विश्व पर्यटन दिवस 2023 महत्त्व

विश्व पर्यटन दिवस विश्व भर में सांस्कृतिक और प्राकृतिक विरासत के संरक्षण में पर्यटन क्षेत्र की भूमिका से अवगत कराता है। यह लुप्तप्राय प्रजातियों की सुरक्षा में भी सहायता करता है।

इसके अलावा यह दिवस ग्रामीण एवं शहरों में महिलाओं और युवाओं के लिये रोज़गार के अवसर प्रदान करने में पर्यटन उधोग के महत्त्व की तरफ ध्यान भी खिचता है।

हम विश्व पर्यटन दिवस क्यों मना रहे हैं?

अंतरराष्ट्रीय स्तर पर टूरिज्म को बढ़ाना देने और लोगों के बीच जागरूकता फैलाना के उद्देश्य से यह दिवस मनाया जाता है। संयुक्त राष्ट्र विश्व व्यापार संगठन (UNWTO) ने वर्ल्ड टूरिज्म डे की शुरुआत की थी। 

विश्व पर्यटन दिवस 2023 की थीम क्या है?

समूचे विश्व भर में  27 सितंबर, 2023 को विश्व पर्यटन दिवस (World Tourism Day) के रूप में  मनाया जा रहा है। वर्ष 2023 में इसकी थीम “Tourism and Green Investments” है।

Share This Article
Leave a comment