भारत के नए CDS लेफ्टिनेंट जनरल अनिल चौहान की जीवनी – Lt Gen Anil Chauhan Biography and information Hindi

भारत के नए CDS लेफ्टिनेंट जनरल अनिल चौहान की जीवनी – Lt Gen Anil Chauhan Biography and information Hindi

Facebook
WhatsApp
Telegram

भारत के नए CDS लेफ्टिनेंट जनरल अनिल चौहान की जीवनी, Lt Gen Anil Chauhan Biography and information Hindi, Lt Gen Anil Chauhan family, लेफ्टिनेंट जनरल अनिल चौहान के बारें मे,

New CDS of India 2022, CDS of India 2022 in hindi, New CDS of India after Rawat, Second CDS of India 2022,

लेफ्टिनेंट जनरल अनिल चौहान कौन हैं – Who is Lt Gen Anil Chauhan (Retd)

विपिन रावत के बाद देश का अगला चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ लेफ्टिनेंट जनरल अनिल चौहान (रिटायर्ड) को बनाया गया है। भारत सरकार के रक्षा मंत्रालय द्वारा लेफ्टिनेंट जनरल अनिल चौहान को यह कार्यभार सौंपा गया।

लेफ्टिनेंट जनरल अनिल चौहान CDS के अलावा भारत सरकार में सैन्य मामलों के सचिव के पद का अतिरिक्त प्रभार भी देखेंगे। वे जनरल विपिन रावत की जगह लेंगे।

बताते चलें कि भारत के पहले सीडीएस बिपिन रावत के निधन के बाद पिछले एक साल से यह पद खाली था। उनका हेलिकॉप्टर तमिलनाडु के कुन्नूर में 1 दिसंबर 2021 को दुर्घटनाग्रस्त हो गया था।

इसमें बिपिन रावत और उनकी पत्नी सहित 12 अन्य सैन्य कर्मियों का आकस्मिक निधन हो गया था। उसके बाद से ही यह पद खाली था।

इन्हें भी पढ़ें – भारत के प्रथम CDS जनरल बिपिन रावत की जीवनी

भारत के दूसरे सीडीएस अनिल चौहान की जीवनी | CDS lt Gen Anil Chauhan Biography In Hindi

पूरा नाम अनिल चौहान (Anil Chauhan)
जन्मतिथि (Date Of Birth) 18 मई 1961
पढ़ाई (Study) कोलकाता, पुणे, देहरादून
सेना में सेवाकाल लगभग 40 वर्ष
सेना में कमीशन वर्ष 1981
जाति और धर्म (Caste & Religion) गढ़वाली राजपुत

लेफ्टिनेंट जनरल अनिल चौहान का जीवन परिचय, परिवार

भारत के दूसरे CDS लेफ्टिनेंट जनरल अनिल चौहान का जन्म 18 मई 1961 को हुआ थ। लेफ्टिनेंट जनरल अनिल चौहान भारत के उत्तराखंड राज्य के राजपूत गढ़वाल परिवार से आते हैं।

शिक्षा दीक्षा

जनरल अनिल चौहान ने अपनी माध्यमिक स्थर तक की पढ़ाई कोलकाता स्थित के केन्द्रीय विद्यालय से की।

उसके बाद उन्होंने राष्ट्रीय रक्षा अकादमी(NDA), खडकवासला, पुणे और भारतीय सैन्य अकादमी, देहरादून से सैन्य परिशिक्षण प्राप्त किया जहाँ से उन्हें स्नातक की उपाधि प्रदान की गई।

लेफ्टिनेंट जनरल अनिल चौहान पत्नी बच्चे – Lt Gen Anil Chauhan family

इनके पत्नी का नाम अनुपमा (Anupama)है।

लेफ्टिनेंट जनरल अनिल चौहान की जीवनी - Lt Gen Anil Chauhan Biography
लेफ्टिनेंट जनरल अनिल चौहान अपनी पत्नी के साथ (फोटो साभार – द टेलीग्राफ)

कैरीयर

देश के दूसरे CDS लेफ्टिनेंट जनरल अनिल चौहान का भारतीय सेना (Indian Army) में सफर शानदार रहा। लेफ्टिनेंट जनरल अनिल चौहान इंडियन मिलिटरी एकेडमी तथा नेशनल डिफेंस एकेडमी पुणे से प्रशिक्षित हैं।

नेशनल डिफेंस एकेडमी, खडकवासला और इंडियन मिलिटरी एकेडमी, देहरादून से पास आउट होने के बाद उन्हें 1981 में कमीशन प्रादन किया गया। उन्होंने कमीशन प्राप्त करने के बाद 11 गोरखा राइफल्स में अपनी सेवा दिया।

आगे चलकर उन्होंने मेजर जनरल के रूप में कश्मीर के बारामुला सेक्टर में इन्फैंट्री डिवीजन को कमान की। जनरल अनिल चौहान ने अंगोला में संयुक्त राष्ट्र मिशन के रूप में बेहतर सेवा प्रदान करने का अनुभव प्राप्त है।

पाकिस्तान सीमा के पास प्रसिद्ध बालाकोट एयरस्ट्राइक के समय जनरल अनिल चौहान सेना के DGMO थे। उन्हें 2019 में पूर्वी कमान के जनरल ऑफिसर कमांडिंग-इन-चीफ का पदभार प्रादन किया गया।

इसी पद पर रहते हुए 2021 में सेवानिवृत हुए थे। लेफ्टिनेंट जनरल अनिल चौहान को अपने 40 साल के लंबे कैरियर में जम्मू-कश्मीर और नॉर्थ ईस्ट के आतंकवाद विरोधी अभियान का बेहद अनुभव है।

सेवानिवृती के बाद भी सक्रिय

लेफ्टिनेंट जनरल अनिल चौहान 31 मई 2021 को सक्रिय सैन्य सेवा से निवृत होने के बाद भी देश सेवा में लगे रहें।

उन्होंने सक्रिय सैन्य सेवा से सेवानिवृत्ति के बाद अजीत डोभाल की अध्यक्षता में राष्ट्रीय सुरक्षा परिषद सचिवालय (एनएससीएस) के सैन्य सलाहकार के रूप में अपना योगदान दिया।

सम्मान व पुरस्कार

अपने अभूतपूर्व सेवा के लिए लेफ्टिनेंट जनरल अनिल चौहान को सेना में सेवाओं के लिए कई पदक की प्राप्ति हुई। इस दौरान उन्हें निम्नलिकित प्रमुख पदक प्राप्त हुए। अनिल चौहान को सेना में सेवाओं के लिए मिले पदक

  • उत्तम युद्ध सेवा पदक
  • विशिष्ट सेवा पदक
  • अति विशिष्ट सेवा पदक
  • परम विशिष्ट सेवा पदक
  • सेना पदक

भारत के नए CDS लेफ्टिनेंट जनरल चौहान के कार्य

  • भारत सरकार के रक्षा मंत्रालय में सैन्य मामलों के विभाग का प्रमुख और इसके सचिव के रूप में सेवा देना।
  • तीनों सेना (थल सेना, वायु सेना और जल सेना) के मामलों में भारत के रक्षामंत्री के प्रधान सैन्य सलाहकार के रूप में कार्य करना।
  • भारत के माननीय रक्षा मंत्री की अध्यक्षता में रक्षा अधिग्रहण परिषद का सदस्य बनना।
  • तीनों सेनाओं में संचालन, रसद, परिवहन, प्रशिक्षण, सहायता सेवाओं, संचार, मरम्मत और रखरखाव आदि में संयुक्तता लाने का कार्य
  • फालतू खर्च को कम करते हुए सशस्त्र बलों की लड़ाकू क्षमताओं को सुदृढ़ करने के उद्देश्य से तीनों सेनाओं में ताल मेल बैठाना।
लेफ्टिनेंट जनरल अनिल चौहान की जीवनी - Lt Gen Anil Chauhan Biography

CDS चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ के लिए पात्रता

चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ (CDS)के पद के लिए चार स्टार जनरलों में से सीनियर सैन्य अधिकारी को नियुक्ति के लिए चुना जाता है।

इस वर्ष जून में भारत सरकार ने थल सेना, नौसेना और वायु सेना के सेवा नियमों में संशोधन को मंजूरी प्रदान की थी। इसमें सैन्य प्रमुखों का कार्यकाल 62 वर्ष की आयु तक या तीन वर्ष जो भी पहले हो निर्धारित किया गया है।

इसमें सीडीएस की आयु सीमा 65 वर्ष रखी गई है तथा इसका कोई निश्चित कार्यकाल निश्चित नहीं होगा।

CDS चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ क्या होता है?

चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ (सीडीएस) भारतीय सशस्त्र बलों के सैन्य प्रमुख और स्थायी अध्यक्ष होते हैं। वे भारत के रक्षा मंत्री के मुख्य सैन्य सलाहकार और सैन्य मामलों के विभाग का प्रमुख होता है।

भारत का dusra चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ कौन है? / Bharat ke vartman Chief of Defence Staff kaun hai?

भारत का dusra चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ ‘लेफ्टिनेंट जनरल अनिल चौहान (रिटायर्ड) हैं। इन्हें पहले CDS बिपिन रावत के बात नियुक्त किया गया है।

Leave a comment

Trending Posts