हरियाणा दर्शनीय स्थल की जानकारी | Places To Visit In Haryana in hindi

हरियाणा दर्शनीय स्थल (Places to visit in Haryana in Hindi ) – हरियाणा पर्यटन स्थल की भारत का एक महत्वपूर्ण राज्य है। यहाँ को कुछ स्थान इस बात का गबाह है की हरियाणा दर्शनीय स्थल का अस्तित्व पौराणिक है।

महाभारत काल में यहाँ के कुरु क्षेत्र में कौरवों और पांडवों के बीच लड़ाई हुई थी। यह भूमि है भगवान श्री कृष्ण की जहाँ के कुरुक्षेत्र में उन्होंने गीता का ज्ञान दिया था। हरियाणा पर्यटन की दृष्टि से भारत का एक समृद्ध राज्य माना जाता है।

इस लेख में हरियाणा के पर्यटन स्थल के बारें में विस्तार से चर्चा की गयी है। हरियाली से परिपूर्ण हरियाणा का समग्र क्षेत्र साफ और सुंदर सड़कों से परिपूर्ण है। प्राकृतिक सुषमा से मंडित हरियाणा दर्शनीय स्थल की खूब चर्चा होती है।

हरियाणा दर्शनीय स्थल की जानकारी - Places To Visit In Haryana in hindi
करनाल का कर्ण झील नये रूप में इस प्रकार दिखाई देगी-फोटो क्रेडिट दैनिक ट्रिब्यून

हरियाणा का historical places हमेशा से ही पर्यटकों को अपनी तरफ आकर्षित करता है। लेकिन यहाँ हरियाणा के टॉप 11 tourist places का वर्णन किया जा रहा है।

हरियाणा दर्शनीय स्थल की जानकारी (PLACES TO VISIT IN HARYANA IN HINDI )

तो चलिए हम हरियाणा के haryana tourism places के बारें में जानते हैं।

हरियाणा के पर्यटन स्थल स्थल कुरुक्षेत्र – historical places of haryana

कुरुक्षेत्र हरियाणा राज्य में स्थित प्रसिद्ध एतिहासिक स्थल है। लेकिन कुरुक्षेत्र का नाम एक महायुद्ध के युद्धस्थल के रूप में भी जाना जाता है। कुरुक्षेत्र के मैदान में ही कौरवों और पांडवों का महायुद्ध हुआ था।

यह युद्ध अधर्म पर धर्म के जीत के लिए हुआ था। लेकिन इस कुरुक्षेत्र की महाभारत की लड़ाई ने विश्व को भगवतगीता जैसी पावन ज्ञान से अवगत कराया। जो भक्त और भगवान, आत्म परमात्मा जियासी दुरूह विषयों से प्रदा उठाती है।

भगवतगीता वो संवाद है जो रन भूमि में श्रीकृष्ण ने मोहपाश में फसे अर्जुन से कहा था। जब सारथी बने भगवान श्री कृष्ण अर्जुन के रथ को रन भूमि में ले गये।

तब सामने विरोधी दल में शामिल अपने गुरु द्रोणाचार्य, पितामह भीष्म, व प्रिय अनुजों को देखकर अर्जुन मोहपाश में बंध गये। क्या मुझे अपने ही प्रियजनों का वध करना होगा, नहीं चाहिये ऐसा राज्य।

ऐसा कहकर अर्जुन ने अपना गांडीव रख कर युद्ध करने से इनकार कर दिया था। तब भगवान श्रीकृष्ण ने अर्जुन को अपना विराट रूप दिखाया और निष्काम भाव से कर्म करने की शिक्षा दी।

उन्होंने कहा ‘कर्मण्ये वाधिाकारस्ते महाफलेषु कदाचन’… और यही बात श्रीमद भागवत गीता का मूल सन्देश भी है। कुरुक्षेत्र में स्थित सरोवर में सूर्य-ग्रहण के अवसर पर स्नान का विशेष महत्व है।

उस दिन इस स्थल पर भव्य मेला का आयोजन किया जाता है। इस मेले में देश के कोने-कोने से कुरुक्षेत्र पहुचते हैं और सूर्य-ग्रहण वाले दिन इस सरोवर में स्नान कर पुण्य का भागी बनते हैं।

कुरुक्षेत्र को मोक्षधाम के रूप में भी जाना जाता है। जिस तरह गया में पिंड दान करने का महत्व हैं उसी प्रकार कुरुक्षेत्र में भी पितरों का तर्पण किया जाता है। इसकी गिनती देव भूमि के रूप में की जाती है।

‘शतपथ ब्राहमण’ यह स्थल देवी-देवताओं की यज्ञ भूमि थी। मान्यता है की इस पावन स्थल पर लाखों देवी-देवता निवास करते थे। ब्रह्मा की यज्ञ वेदी होने के कारण हरियाणा के कुरुक्षेत्र को ब्रह्मवेदी भी कहा जाता है।

ऐसी मान्यता है की ज्ञान और मुक्तीदायिनी सरस्वती नदी जो अब विलुप्त हो गयी, आदिकाल में हरियाणा के कुरुक्षेत्र के पास से गुजरती थी। महाभारत के अनुसार कुरुक्षेत्र नामक स्थल सरस्वती नदी के दक्षिण में स्थित था।

वर्तमान युग में कुरुक्षेत्र में एक प्रसिद्ध विश्व-विधालय की स्थापना की गई है। कुरुक्षेत्र के अन्य दर्शनीय स्थल में श्रीकृष्ण म्यूजियम, पल्लव व चोल राजाओं के काल की कांस्य प्रतिमाएं, पवित्रजल कुण्ड शामिल हैं।

इसके अलावा हाथी दांत से निर्मित वेणु गोपाल रूपी कृष्ण, गीताभवन, दुर्गामन्दिर, लक्ष्मीनारायण मंदिर, संस्कृत विश्व-विद्यालय, लालमस्जिद, शेखचिल्ली की समाधि प्रसिद्ध हैं।

2. पानीपत- haryana tourist places in hindi

हरियाणा का पानीपत भी एक प्रसिद्ध रन क्षेत्र के रूप इतिहास में पहचान है। पानीपत में एक नहीं तीन-तीन प्रसिद्ध लड़ाईयां लड़ी गयी। पानीपत की पहली लड़ाई सन 1526 ई. में बाबर और इब्राहिम लोदी के बीच लड़ गया था।  

जिसमें बाबर की जीत हुई। पानीपत की दूसरी लड़ाई अकबर और हिन्दू राजा हेमू के बीच सन 1556 ईस्वी में लड़ा गया। इस लड़ाई में अकबर ने हेमू को पराजित किया। पानीपत की तीसरी लड़ाई मराठों और अहमदशाह अब्दाली के बीच सन 1761 ईस्वी में हुआ।

जिसमें अहमदशाह अब्दाली विजयी रहा था। यह तीनों लड़ाई भारत की दशा और दिशा दोनो बदल कर रख दिया। यहाँ के दर्शनीय स्थल में हिन्दू राजा हेमू का समाधि स्थल, इब्राहीम लोदी का कब्र, बाबर का काबुली बाग मस्जिद आदि प्रसिद्ध है।

3. करनाल झील – haryana famous places in hindi

कहते हैं की इस नगर की स्थापना महाभारत के महान योद्धा दानवीर कर्ण द्वारा की गई थी। यहाँ का वातावरण बड़ा ही शांत और मनोरम है। इस झील के पास आकर पर्यटक को एक अलग तरह की फीलिंग होती है।

करनाल झील के जल में कश्मीर के डल झील की तरह बोटिंग का प्रबन्ध भी है। यहाँ आने वाले पर्यटक भ्रमण के साथ-साथ बोटिंग का भी मजा ले सकते हैं। इसके थोड़ी दूर पर स्थित यमुना कैनाल भी पर्यटक के आकर्षण का केंद्र है।

4. ‘सुलतानपुर’ पक्षी संग्रहालय के लिए प्रसिद्ध

सुलतानपुर का नाम पक्षी संग्रहालय के रूप में मशहूर है। यहाँ पर आप भारत के साथ-साथ विदेशी पक्षियों को भी देख सकते हैं। यहाँ कई प्रकार के दुर्लभ प्रजाति के पक्षी भी देखने को मिल जाते हैं। जो आज विलुप्त होने के कगार पर पहुँच चुकी है।

5. सुरज कुंड प्रमुख पर्यटन का स्थल

यह भारत की राजधानी दिल्ली के नजदीक हरियाणा में स्थित एक ऐतिहासिक स्थल है। इतिहासकारों के अनुसार इसका निर्माण तोमर राजा अनंगपाल के पुत्र सूरजपाल ने किया था।

हरियाणा दर्शनीय स्थल की जानकारी | Places To Visit In Haryana in hindi
सूरजकुंड हरियाणा

सूरजकुंड में प्रतिवर्ष विश्व विख्यात हस्तशिल्प का मेला का आयोजन होता है। इस मेले को देखने के लिए दिल्ली सहित देश के सभी राज्यों से लोग सूरजकुंड पहुंचते हैं।

6. बड़खला झील-

बच्चों और फॅमिली के साथ पिकनिक और मौजमस्ती के लिए यह स्थान बेहद खास है। यहाँ की प्राकृतिक सुंदरता अत्यंत ही निराली और मनमोहक है।

इसके हरे-भरे लॉन में परिवार या दोस्तों के साथ पिकनिक का आनंद लिया जा सकता है। इस झील में बोटिंग की भी व्यवस्था है। यहाँ आने वाले पर्यटक बड़खला झील में नौकाविहार का आनद उठाना नहीं भूलते।  

7. सोहना-

यह स्थल दिल्ली से थोड़ी दूर हरियाणा के गुरुग्राम के पास स्थित है। haryana tourist places में सोहना का नाम सबसे प्रसिद्ध माना जाता है। यहाँ के स्थानीय निवासी इसे तीर्थस्थल के रूप में मानते हैं। इस स्थान की विशेषता यहाँ पर स्थित गर्म जल का कुंड है।

सोहन में स्थित गर्म जल कुंड का स्रोत प्राकृतिक होने के कारण पर्यटक के आकर्षण का केंद्र है। पास के पहाड़ी पर बड़े-बड़े लॉन स्थित हैं जहाँ परिवार के साथ पिकनिक का आनंद उठाया जा सकता है।

सोहनसोहना के गर्म जल कुंड के जल के बारे में मान्यता है की इस जल के प्रयोग से चर्म रोग दूर हो जाते हैं।

8. गुरुद्वारा पंजोखरा साहिब, हरियाणा

हरियाणा दर्शनीय स्थल की जानकारी | Places To Visit In Haryana in hindi
गुरुद्वारा पंजोखरा साहिब अंबाला

यह गुरुद्वारा सिक्खों के आठवें गुरु श्री हरकृष्ण साहिब जी महाराज को समर्पित है। यह गुरुद्वारा अंबाला-नारायणगढ़ मार्ग पर स्थित है। यहाँ के पंजोखरा में कुछ दिनों के लिए रुके थे।


बाहरी कड़ियाँ (Internal link)


संबंधित खोजें (भारत के प्रसिद्ध पर्यटन स्थल )

बिहार के प्रसिद्ध दर्शनीय स्थल पटना के दर्शनीय स्थल
कश्मीर के दर्शनीय स्थल मुंबई के पर्यटन स्थल की जानकारी
सिक्किम के पर्यटन स्थल की जानकारी भारत के टॉप 11 हिल स्टेशन के बारे में

आपको हरियाणा दर्शनीय स्थल की जानकारी (PLACES TO VISIT IN HARYANA IN HINDI) शीर्षक वाला यह लेख आपको कैसा लगा अपने सुझाव से जरूर अवगत करायें।

Leave a Comment