बिहार राज्य के बारे में कुछ रोचक जानकारी | About Bihar in Hindi

बिहार के बारे में जानकारी हिंदी में, ABOUT BIHAR IN HINDI, BIHAR KE BARE MEIN JANKARI
बिहार के बारे में जानकारी हिंदी में, ABOUT BIHAR IN HINDI, BIHAR KE BARE MEIN JANKARI

बिहार के बारे में रोचक जानकारी –

बिहार (Bihar State of India) भारत के पूर्वी भाग में स्थित एक प्रसिद्ध कृषि प्रधान राज्य हैं। बिहार कर्म भूमि है भगवान बुद्ध और भगवान महावीर की जिन्होंने दुनियाँ को अहिंसा का पाठ पढ़ाया।

Contents
बिहार के बारे में रोचक जानकारी –बिहार का इतिहास – Information about Bihar in Hindiबिहार राज्य की स्थापना – Bihar diwas in Hindiबिहार के जिले के बारे में जानकारीबिहार GK –बिहार राज्य के प्रतीक चिन्ह की जानकारीबिहार राज्यव्यवस्था – Bihar Ke Bare Mein Jankariबिहार की राजधानी – About capital of Bihar In Hindiबिहार का अर्थव्यवस्थाबिहार का भूगोलबिहार की नदियाँबिहार की चौहद्दी इन हिंदी (Bihar ki chauhaddi in Hindi)मुख्य भाषा – Bihar ki bhashaबिहार की वेशभूषा के बारे में (Bihari traditional dress in Hindi )बिहार की संस्कृति – Culture of Bihar in Hindiबिहार के प्रमुख त्योहार –बिहार का पर्यटक स्थलबिहार के बारे में रोचक तथ्य – Facts About Bihar In Hindiबिहार की पृष्ठभूमि पर आधारित फ़िल्मों की जानकारीबिहार का पहले नाम क्या था?बिहार का राजकीय नदी कौन है?बिहार दिवस क्यों मनाया जाता है?बिहार का क्षेत्रफल कितना है ?बिहार की सीमा कितने राज्यों से लगती है?

यह भूमि है बिहार की जहाँ से बौद्ध और जैन धर्म ने जन्म लिया। यह जन्म भूमि हैं माता सीता की। यह धरती है अजातशत्रु और सम्राट अशोक की जिसका मगध साम्राज्य भारत भर में फैला था।

जिसके स्तम्भ से लिए गया चित्र हमारे देश का राष्ट्रीय चिन्ह है। यह भूमि है चाणक्य की जिन्होंने दुनिया को राजनीत‍ि व कूटनीति का पाठ पढ़ाया। शल्य चिकित्सा के जनक ‘सुश्रुत’ बिहार के ही रहने वाले थे। जिन्होंने विश्व को सर्जरी का ज्ञान दिया।

यह धरती है महान गणितज्ञ आर्यभट्ट की जिन्होंने दुनियाँ को शून्य का ज्ञान दिया। यह कालिदास, पाणिनी और पवित्र ग्रंथ रामायण के रचियाता बाल्मीकि जी की भूमि हैं। प्रसिद्ध ग्रंथ कामसूत्र’ के रचयिता वात्स्यायन बिहार के ही रहने वाले थे।

- Advertisement -

यह जन्म भूमि है सिक्खों के दसवें और अंतिम गुरु गुरु गोविंद सिंह जी महाराज की जिन्होंने मुगलों के सामने कभी घुटने नहीं टेके। बिहार वह पावन भूमि है जहाँ वीर कुँवर सिंह और देश के प्रथम राष्ट्रपति डॉ राजेन्द्र प्रसाद ने जन्म लिया।

यह धरती है लोकनायक जयप्रकाश नारायण जैसे नेता की जिन्होंने राजनीति में एक अलग मुकाम हासिल कीया। यह भूमि है बिहार की जहाँ से महात्मा गांधी ने स्वतंरता आंदोलन की शुरुआत की थी।

विहार का इतिहास बड़ा ही गौरवशाली रहा है। यहाँ के राजा सम्राट अशोक के समय में मगध साम्राज्य पूरे भारतवर्ष में विस्तारित था। यहाँ का प्रसिद्ध नालंदा विश्व विध्यालय पूरे विश्व में प्रसिद्ध था। इस विश्व विध्यालय में दुनियाँ भर के छात्र पढ़ने आया करते थे।

बिहार के बारे में जानकारी हिंदी में, ABOUT BIHAR IN HINDI, BIHAR KE BARE MEIN JANKARI
बिहार के बारे में जानकारी हिंदी में

दुनियाँ को प्रजातंत्र अर्थात डेमोक्रेसी का पहला पाठ पढ़ाने वाला बिहार ही था। बिहार के वैशाली में सबसे पहले प्रजातंत्र की स्थापना मानी जाती है। बिहार में कल कारखानों का अभाव है तथा यहाँ के लोगों के आय का मुख्य श्रोत खेती है।

बिहारी लोग बहुत ही मेहनती होते हैं तथा अपनी कड़ी मेहनत के बल पर हर क्षेत्र में आगे रहते हैं। यही नहीं बिहार के लोग पढ़ाई में ही आगे हैं और अपनी कड़ी मेहनत के द्वारा सिविल सेवा सहित अन्य परीक्षाओं में भी हमेशा अव्वल आते हैं।

यहाँ के लोग अपने आजीविका के लिए भाड़ी संख्या में बिहार से बाहर दूसरे राज्यों में जाते हैं। आइए बिहार के बारे में जानकारी हिन्दी में शीर्षक वाले इस लेख में बिहार की सम्पूर्ण जानकारी संक्षेप में जानते हैं।

बिहार का इतिहास – Information about Bihar in Hindi

प्राचीन काल से लेकर आधुनिक काल तक बिहार का इतिहास बड़ा ही गौरवशाली रहा है। बिहार का अर्थ की बात करें तो बिहार शब्द संस्कृत और पाली भाषा के “विहार” (Vihar) शब्द से निकला है।

जिसका अर्थ होता है विचरण करने अर्थात विहार करने की जगह। यह स्थान बौद्ध के रहने का स्थान था। बिहार का इतिहास इस बात का साक्षी है की यहाँ सम्राट अशोक से लेकर चंद्र गुप्ता मौर्य ने शासन किया।

बिहार वह राज्य है जिसने दुनियाँ को सबसे पहले प्रजातन्त्र की सिख दी। मौर्य और गुप्त बंश के शासन के दौरान यह क्षेत्र मगध के नाम से जाना जाता था। लगभग पूरे भारत में फैली मगध साम्राज्य की राजधानी पाटलिपुत्र आधुनिक पटना हुआ करती थी।

कलांतर में इस प्रदेश पर मुगलों और शेरशाह सूरी का राज्य रहा। कालांतर में जाकर यहाँ अंग्रेजों ने शासन किया। सन 1912 में अंग्रेजों ने इसे बंगाल प्रेसिडेंसी से अलग किया। बाद में इस राज्य से उड़ीसा और झारखंड अलग राज्य बना।

इन्हें भी पढ़ें – बिहार का गौरवशाली इतिहास बिस्तार से

Google web stories – राजस्थान के किले और महल

बिहार राज्य की स्थापना – Bihar diwas in Hindi

बिहार पहले अंग्रेजों के समय में बंगाल प्रेसिडेंसी का हिस्सा था। 22 मार्च 1912 को इस बंगाल प्रेसिडेंसी से अलग कर दिया गया। चूंकि यह 22 मार्च को बिहार एक अलग राज्य के रूप में आस्तित्व में आया।

इस कारण हर वर्ष 22 मार्च को बिहार दिवस के रूप में मनाया जाता है। इस तथ्य के आधार पर कहा जा सकता है की बिहार राज्य 1912 में ही बना था।

बिहार के जिले के बारे में जानकारी

बिहार में कुल 38 जिले हैं। सभी 38 जिले कुल 9 मंडलों में विभक्त है। क्षेत्रफल के आधार पर बिहार का सबसे बड़ा जिला पश्चिमी चम्पारण है। बिहार के सभी जिले का नाम इस प्रकार हैं।

1.अररिया, 2.अरवल, 3.औरंगवाद, 4.बेगूसराय, 5.बांका, 6.बक्सर, 7.भागलपुर, 8.भोजपुर,

9.दरभंगा, 10.मोतीहारी, 11.गया, 12.गोपलगंज, 13.जहानाबाद, 14.जमुई, 15.खगड़िया, 16.किशनगंज, 17.पटना 18.मधुबनी, 19.मधेपुरा, 20.भबुआ, 21.मुंगेर, 22.मुजफ्फरपुर, 23.नालंदा, 24.नवादा,

25.लखीसराय, 26.पूर्णियाँ, 27.सहरसा, 28.सासाराम, 29.समस्तीपुर, 30.शिवहर, 31.शेखपुरा, 32.छपरा, 33.सीतामढ़ी, 34.सुपौल, 35.वैशाली, 36.बेतिया, 37.सिवान 38.कटिहार

इन्हें भी पढ़ें – बिहार के सभी जिलों के बारे में विस्तार से

बिहार GK –

  1. नाम – बिहार
  2. प्राचीन नाम – मगध साम्राज्य
  3. राज्य का दर्जा – 26 जनवरी 1950  
  4. बिहार की राजधानी – पटना
  5. वर्तमान जिले की संख्या: 38
  6. बिहार की जनसंख्या – 10,38,04,637(2011 के जनगणना के आधार पर )
  7. बिहार में लिंगनुपात – 916
  8. बिहार में साक्षरता की दर – 61.80%
  9. क्षेत्रफल – 94,163 वर्ग किलोमीटर
  10. बिहार में लोकसभा की कुल सीटें: 39
  11. बिहार में राज्य सभा की कुल सीटें: 16
  12. विधान सभा के कुल सदस्यों की संख्या : 243
  13. विधान परिसद की सदस्यों की संख्या : 75
  14. सर्वाधिक क्षेत्रफल वाला जिला – प चंपारण
  15. सबसे कम क्षेत्रफल वाला जिला – शिवहर

बिहार राज्य के प्रतीक चिन्ह की जानकारी

बिहार का राजकीय वृक्ष(State Tree) –पीपल
बिहार का राजकीय पक्षी(Bihar ka rashtriya pakshi) – गौरैया
बिहार का राजकीय पशु (Bihar ka rajkiya pashu) – बैल
बिहार का राजकीय फूल (state flower)- गेंदा

बिहार राज्यव्यवस्था – Bihar Ke Bare Mein Jankari

बिहार राज्य भारतीय गणराज्य के संधीय ढाँचे में दोहरी सदन वाली व्यवस्था के अधीन काम करता हैं। इसमें एक विधान सभा और दूसरा विधान परिषद कहलाता है।

राज्य के सर्वोच्च संवैधानिक पद पर राज्यपाल होता है। परंतु वास्तविक सत्ता का संचालन मुख्यमंत्री द्वारा किया जाता है।

बिहार की राजधानी – About capital of Bihar In Hindi

पटना बिहार की राजधानी है, जिसका पुराना नाम पाटलीपुत्र था। यही से सम्राट अशोक ने पूरे भारत पर राज्य था। प्राचीनकाल में इसका नाम एक नाम कुसुमपुर भी था। उस बक्त के गौरवशाली इतिहास के अवशेष आज भी इस शहर में मौजूद हैं। बिहार की राजधानी पटना आजादी के बाद 1947 में बना।

शेरशाह सूरी ने मुगल सम्राट हुमायुं को पराजित करने के बाद आधुनिक पटना शहर की स्थापना की थी। पटना के दर्शनीय स्थल में पटना का गोलघर, पटना का म्यूजियम, प्राचीन पाटलीपुत्र के अवशेष, आदि प्रसिद्ध है।

साथ की गुरु गोविंद सिंह जी महाराज के जन्म स्थल पटना साहिब, बड़ी पाटन देवी मंदिर, पटना का हनुमान मंदिर, संजय गांधी जैविक उदधान आदि भी प्रसिद्ध हैं।

बिहार का अर्थव्यवस्था

जैसा की हम जानते हैं की बिहार, भारत का एक कृषि प्रधान राज्य में से एक है। बिहार के कुल भौगोलिक क्षेत्रफल में से लगभग 56 लाख हेक्‍टेयर भूमि पर खेती की जाती है।

यहां की प्रमुख फसलों में मक्‍का, गेहूं, धान, गेहूं और दलहनी फसल के नाम हैं। यहाँ कुछ मुख्‍य नकदी फसलों की भी खेती होती है जिसमें आलू, गन्‍ना, तिलहन, प्‍याज, मिर्च और पटसन आदि प्रमुख हैं।

यहाँ कल कारखानों के आभाव के कारण बहुत बड़ी संख्या में बिहार के लोग रोजी रोटी की खोज में दूसरे राज्यों में जाते हैं। इस प्रकार देखा जाय तो बिहार की अर्थव्यवस्था मुख्य रूप से खेती पर निर्भर है। बिहार की खान पान में यहाँ का प्रसिद्ध व्यंजन लिट्टी चोखा प्रसिद्ध है।

बिहार राज्य के बारे में कुछ रोचक जानकारी | About Bihar in Hindi
बिहार के प्रसिद्ध व्यंजन लिट्टी चोखा ,

बिहार का भूगोल

बिहार भारत के उत्तर पूर्व में वसा भारतीय गणराज्य का अभिन्न्य राज्य है। बिहार की भौगोलिक स्थिति की बात करें तो यह 24°20’10” – 27°31’15” उत्तरी अक्षांश तथा 82°19’50” – 88°17’40” पूर्वी देशांतर के मध्य स्थित है।

वर्ष 2011 की जनगणना के अनुसार बिहार राज्य की जनसंख्या करीब 10,40,99,452 है । बिहार का अधिकांश भाग नदियों से घिरा है यही कारण है की बिहार में हर साल बाढ़ की बिभीषिक दिखाई पड़ती है।

बिहार की नदियाँ

बिहार में अनेकों नदियां बहती हैं, जिनमें गंगा, कोसी, सोन, गंडक, घाघरा, पुनपुन, फल्‍गु, कर्मनाशा आदि प्रमख हैं। बिहार में बहने वाली कोसी नदी को बिहार का शोक कहा जाता है,

क्योंकि हर साल कोसी नदी के बाढ़ से अपार धन-जन की क्षति होती है। इसीलिए कोसी नदी को बिहार का शोक कहा जाता है।

छोटी बड़ी सभी नदियाँ आगे चलकर गंगा में मिल जाती है। सोन नदी पटना में, बूढ़ी गंडक खगड़िया में और कोसी कुरसेला के पास गंगा नदी में मिलती है।

बिहार की चौहद्दी इन हिंदी (Bihar ki chauhaddi in Hindi)

बिहार के चौहद्दी में पूरब में प-बंगाल, पश्चिम में उत्तर प्रदेश, दक्षिण में झारखंड तथा उत्तर में नेपाल देश स्थित है।

मुख्य भाषा – Bihar ki bhasha

बिहार की सरकारी राजकाज की भाषा हिन्दी है। बिहार में कई भाषाएं बोली जाती है। इन भाषाओं में भोजपुरी, मगही, अंगिका, और मैथिली आदि प्रमुख हैं।

भोजपुरी– यह मुख्यतः गोपालगंज, सीवान, छपरा, पूर्वी व पच्छिम चंपारण, भोजपुर, रोहतास, बक्सर, भभुआ और  आरा जिला में बोला जाता हैं।

मैथिली – यह मुख्यतः सीतामढ़ी, दरभंगा, मधुबनी, समस्तीपुर, मुजफ्फरपुर, सुपौल और शिवहर आदि जिला  में बोला जाता हैं।

अंगिका – यह भाष मुख्यतः भागलपुर, बांका, मुंगेर, बेगूसराय, खगड़िया, लक्खीसराय, शेखपुरा, जमुई, कटिहार, सहरसा, मधेपुरा, पूर्णिया और अररिया में बोला जाता है।

मगही – मगही मुख्य रूप से पटना, गया, नालन्दा, नवादा, जहानाबाद, औरंगाबाद आदि जिले में बोली जाती है। इसके अलाबा बज्जिका भाषा हाजीपुर और मुजफ्फरपुर साइड में कुछ स्थानों पर बोली जाती है।

बिहार की वेशभूषा के बारे में (Bihari traditional dress in Hindi )

बिहार के लोगों के प्रारंपरिक पोशाक की बात की जाय तो यहाँ के पुरुष धोती और कुर्ता पहनते हैं। वहीँ महिलायें साड़ी और लड़कियां सलवार और कुर्ती धारण करती हैं। यहाँ के नौजवान अन्य राज्यों की तरह फूल पैंट और सर्ट पहनते हैं।

बिहार की संस्कृति – Culture of Bihar in Hindi

बिहार के संस्कृति की बात करें तो यहाँ के त्योहारों, उत्सवों के दौरान साफ देखी जा सकती है। यहाँ सबसे बड़ी आबादी हिन्दू की है उसके बाद मुस्लिम और अन्य धर्मों के लोग आते हैं।

यहॉं सभी धर्मों के लोग अपने-अपने त्योहार को बड़ी ही हर्षोउल्लास के साथ मनाते हैं। सभी एक दूसरे के त्योहार में बढ़ चढ़कर साथ देते हैं।

बिहार के प्रमुख त्योहार

बिहार के प्रमुख त्योहार में छठ पूजा, मकर संक्रांति, होली, दीपावली, दशहरा, ईद, रमजान आदि नाम प्रसिद्ध हैं। लेकिन छठ पूजा बिहार की पहचान है। छठ पूजा बिहार में बहुत ही प्रसिद्ध हैं। जिसमें भगवान सूर्य की उपासना की जाती है।

बिहार के बारे में जानकारी हिंदी में, ABOUT BIHAR IN HINDI, BIHAR KE BARE MEIN JANKARI
बिहार के त्योहार बारे में जानकारी हिंदी में

लेकिन आस्था का महापर्व छठ का बिहार में बहुत ही महत्व है। यह त्योहार पूरे बिहार में बड़े ही हर्षोल्लास के साथ मनाया जाता है।

बिहार का पर्यटक स्थल

पर्यटन की दृष्टिकोण से बिहार राज्य का अपना विशेष स्थान है। राज्‍य में कई प्रमुख पर्यटन स्थल हैं आइये संक्षेप में इस पर्यटक स्थल के बारें में जानते हैं।

  • पटना – पटना एक एतिहासिक शहर है। यहाँ प्राचीन पटलीपुत्र के अवशेष, गोलधर, महाबीर मंदिर, गाँधी मैदान, संजय गाँधी जैविक उधान, अगम कुँवा, बड़ी पाटन देवी मंदिर, पटना साहिब आदि प्रमुख जगह का भ्रमण कर सकते हैं।  
  • गया – हिन्दू धर्म में गया पितृ देवों की तीर्थ स्थली मानी जाती है। प्रतिवर्ष लाखों गया पिंड दान हेतु जाते हैं।
  • बोधगया – यह स्थान बौद्ध धर्म के लिए अति पावन माना जाता है। यहीं पर कपिलवस्तु के राजकुमार सिद्धार्थ को ज्ञान की प्राप्ति हुई तथा वे गौतम बुद्ध कहलाये।
  • पावापुरी – यह स्थान जैन धर्म के लिए अति महत्व का माना जाता है।
  • वैशाली – यह स्थान प्राचीन लिच्छवि गणराज्य की राजधानी थी। जैन धर्म के 24 वें तीर्थकर महावीर स्वामी का जन्म वैशाली के ही कुंडलग्राम में हुआ था।
  • मुंगेर – बिहार के मुंगेर का नाम रामायण और महाभारत में भी मिलता हैं। मुंगेर, बिहार के अंतिम नवाब मिरकासिम की राजधानी थी।
  • राजगीर– राजगीर जिसे प्राचीन काल में राजगृह के नाम से जाना जाता था। राजगीर का अपना एक गौरवशाली इतिहास है। प्राचीन काल में यह मगध की राजधानी थी।
  • नालन्दा– विश्वविख्यात नालन्दा विश्वविध्यालय का निर्माण तीसरी शताब्दी में सम्राट अशोक ने करवाया था। प्रसिद्ध चीनी यात्री ह्वेनसांग ने इसी विश्वविध्यालय में शिक्षा ग्रहण की थी।
  • विक्रमशीला – नालंदा के अलावा विक्रमशीला भी शिक्षा का प्रसिद्ध केंद्र था।

इन्हें भी पढ़ें – बिहार के 11 प्रसिद्ध दर्शनीय/पर्यटन स्थल

बिहार के बारे में रोचक तथ्य – Facts About Bihar In Hindi

  • बिहार राज्य की सीमा 03 अन्य राज्य से लगती है।
  • बिहार की उतरी सीमा नेपाल देश से लगी है।
  • बिहार सबसे पहले प्रजातन्त्र की शुरुआत लिवछवि गणराज्य से हुई थी।
  • विश्व का सबसे पुरानी विश्वविद्यालय नालंदा बिहार में ही था।
  • बिहार का नालंदा प्राचीन काल में शिक्षा का प्रसिद्ध केंद्र था।
  • नालंदा को वखतीयर खिलजी ने ध्वस्त कर इसके पुस्तकालय में आग लगा दी।
  • कहते हैं की इसके पुस्तकालय में महीनों तक किताब जलती रही थी।
  • बिहार का पुराना नाम मगध देश था जो सम्पूर्ण भारत में फैला था।
  • गौतम बुद्ध बिहार के गया में सिद्धार्थ से भगवान बुद्ध बने।
  • भगवान महाबीर को भी बिहार में ही ज्ञान की प्राप्ति हुई।
  • विश्व के दो प्रसिद्ध धर्म, जैन धर्म और बौद्ध धर्म की उत्पत्ति बिहार में ही हुआ।
  • राजनीत‍ि व कूटनीति से परिपूर्ण चाणक्य नीति के रचियाता चाणक्य बिहार के ही थे।
  • सिख धर्म के अंतिम गुरु गोविंद सिंह की जन्म स्थली बिहार है।

बिहार की पृष्ठभूमि पर आधारित फ़िल्मों की जानकारी

फिल्म का नाम – गंगाजल
निर्माण वर्ष – 2003
निर्माता – प्रकाश झा
मुख्य कलाकार – अजय देवगन, ग्रेसी सिंह

फिल्म का नाम – गैंग्स ऑफ़ वासेपुर
निर्माण वर्ष – 2012
निर्माता – अनुराग कश्यप
मुख्य कलाकार – मनोज वाजपेयी , नवाज़ुद्दीन सिद्दीकी , हमा कुरैशी , ऋचा चड्ढा

फिल्म का नाम – अपहरण
निर्माण वर्ष – 2005
निर्माता – प्रकाश झा
मुख्य कलाकार – अजय देवगन, बिपाशा बासु और नाना पाटेकर

फिल्म का नाम – शूल
निर्माण वर्ष – 1999
निर्माता – राम गोपाल वर्मा , नितिन मनमोहन
मुख्य कलाकार – मनोज वाजपेयी, रवीना टंडन और शिल्पा शेट्टी

फिल्म का नाम – मातृभूमि निर्माण वर्ष – 2003
निर्माता :मनीष झा
मुख्य कलाकार – ट्यूलिप जोशी और सुशांत सिंह

फिल्म का नाम – मृत्युदंड निर्माण वर्ष – 1997
निर्माता – प्रकाश झा
मुख्य कलाकार – माधुरी दीक्षित , शबाना आज़मी , अयूब खान और ओम पुरी

फिल्म का नाम – आम्रपाली (बिहार की इतिहासिक पृष्टभूमि पर बनी फिल्म) निर्माण वर्ष – 1966
निर्माता – एफ सी मेहरा
मुख्य कलाकार – सुनील दत्त और वैजयंतीमाला

फिल्म का नाम – तीसरी कसम निर्माण वर्ष – 1966
निर्माता – शैलेन्द्र
मुख्य कलाकार – राज कपूर और वहीद रहमान

बिहार का पहले नाम क्या था?

बिहार को मौर्यकाल में मगध देश के नाम से जाना जाता है।

बिहार का राजकीय नदी कौन है?

इस राज्य में बहने बाली सबसे प्रमुख नदियां में गंगा, कोसी, गंडक, बागमती आदि प्रसिद्ध है।

बिहार दिवस क्यों मनाया जाता है?

चूंकि 22 मार्च 1912 में बिहार, बंगाल प्रेसिडेंसी से अलग हुआ था। इसी कारण 22 मार्च को बिहार दिवस के रूप मे मनाया जाता है।

बिहार का क्षेत्रफल कितना है ?

बिहार का क्षेत्रफल 9163 वर्ग किलोमीटर है।

बिहार की सीमा कितने राज्यों से लगती है?

बिहार की सीमा तीन राज्यों से लगती है।

आपको बिहार के बारे में जानकारी हिंदी में जरूर अच्छी लगी होगी।

Share This Article
Leave a comment
कुंभलगढ़ किला का इतिहास | kumbhalgarh fort information in hindi नाहरगढ़ किले का रहस्य, इतिहास | Nahargarh fort Jaipur history in Hindi यूनेस्को द्वारा विश्व धरोहर में शामिल राजस्थान के 6 किले की खास बातें उम्मेद भवन जोधपुर | umaid bhawan palace jodhpur history in hindi मेहरानगढ़ किले का इतिहास | Mehrangarh Fort Jodhpur History in Hindi जयगढ़ का किला जयपुर राजस्थान | jaigarh fort history in hindi भानगढ़ किला सबसे भुतहा जगह | bhangarh fort history in hindi चितोड़ गढ़ किले का इतिहास और जानकारी – About Chittodgarh fort राज निवास पैलेस धौलपुर राजस्थान वेब स्टोरी | Raj Niwas Palace Dholpur